अब आंगनबाड़ी व सुपरवाइजर का भविष्य तय करेगी लिखित परीक्षा

अब आंगनबाड़ी व सुपरवाइजर का भविष्य तय करेगी लिखित परीक्षा
ab anganbadi v supaerwiser ka bhavishya tay karegi likhit pariksha

जासं, बहराइच : अब बाल विकास पुष्टाहार की रीढ़ समझी जाने वाली आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सुपरवाइजरों को लिखित परीक्षा के दौर से गुजरना पड़ेगा। परीक्षा परिणाम उनकी योग्यता के मापदंड को निर्धारित करेगा। असफल कार्यकर्ताओं व सुपरवाइजरों की मुश्किलें भी बढ़ सकती हैं। योजनाओं के क्रियान्वयन व रिपोर्टिंग में आ रही दिक्कतों को देखते हुए बाल विकास विभाग ने लिखित परीक्षा का फैसला किया है। इसका माइक्रोप्लॉन तैयार किया जा रहा है।

बाल विकास विभाग के सामने केंद्र व राज्य सरकार की ओर से संचालित योजनाओं को धरातल पर लागू करने में सबसे बड़ी चुनौती आंगनबाड़ी व सुपरवाइजरों की योग्यता है। विभाग में कार्यरत 90 फीसद आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सिर्फ पांचवी व आठवीं पास हैं, जो दो दशकों से कार्यरत हैं। ऐसे में कुपोषण समेत विभिन्न प्रकार की चुनौतियों से निपटने के लिए उठाए जा रहे कदम कहीं न कहीं कार्यकर्ताओं व सुपरवाइजरों की योग्यता से लड़खड़ा रहे हैं। लिहाजा गुणवत्तापूर्ण कार्य नहीं हो पा रहा है। अब इस समस्या से निपटने के लिए बाल विकास विभाग इनकी लिखित परीक्षा कराने का फैसला किया है। यह परीक्षा संचालित गतिविधियों पर आधारित होगी। योजना से संबंधित प्रश्न पूछे जाएंगे। परीक्षा के पैमाने पर खरा उतारने वाली कार्यकर्ताओं व सुपरवाइजरों को प्रोत्साहित किया जाएगा, जबकि असफल होने वाली कार्यकर्ताओं व सुपरवाइजरों के लिए दिक्कत हो सकती है। परीक्षा का पैमाना तय कर लिया गया है। अधिकारियों का कहना है कि कई महत्वपूर्ण बदलाव किए जाने के संकेत मिल रहे हैं, जिसको देखते हुए गुणवत्ता बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया जा रहा है, जिससे योजनाओं का सफल क्रियान्वयन कराया जा सके।

कार्यकर्ताओं व सुपरवाइजर को मिलेगा प्रशिक्षण : लिखित परीक्षा से पहले आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सुपरवाइजरों को पांच दिवसीय प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। यह प्रशिक्षण परीक्षा पर ही आधारित होगा। जिसमें सभी योजनाओं,उनके क्रियान्वयन से संबंधित रहेगा। जिला स्तर पर डीपीओ सभी सीडीपीओ को प्रशिक्षण देंगे। सीडीपीओ, आंगनबाड़ी व सुपरवाइजरों को प्रशिक्षित करेंगे, जिससे परीक्षा के दौरान उन्हें किसी प्रकार की कोई दिक्कत न हो।

गुणवत्ता बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया जा रहा है। जिससे आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं व सुपरवाइजरों की कार्यकुशलता में निखार आएं।

ab anganbadi v supaerwiser ka bhavishya tay karegi likhit pariksha

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

(cc) Some Rights Reserved. Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget