अब आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मिलेंगे स्मार्ट फोन

अब आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को मिलेंगे स्मार्ट फोन
ab anganbadi karyakartaon ko milenge Smartphone

राज्य और नेशनल पोषण मिशन खत्म,अब पोषण अभियान 2022 के तहत मिलेंगी सुविधाएं, हाईटेक होंगे आंगनबाड़ी केंद्र


केंद्रों पर पायलट प्रोजेक्ट के तहत दी जाएंगी डिजिटल वजन मशीन


संवादसूत्र, बाराबंकी : केंद्र सरकार ने राज्य और नेशनल पोषण मिशन योजना को समाप्त कर पोषण अभियान 2022 शुरू कर दिया है। इसके तहत यूपी के 19 मंडलों में एक-एक ब्लॉक की आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्ट फोन दिया जाएगा। केंद्रों को डिजिटल वजन मशीन देकर बच्चों का वजन कर ग्रोथ चार्ट बनाया जाएगा। इसी रिपोर्ट के आधार पर कुपोषण का पता लगाकर अभियान चलाया जाएगा।

पहले पोषण मिशन में अफसर आंगनबाड़ी केंद्रों को गोद लेकर बच्चों को कुपोषण से मुक्त कराते थे, अब अधिकारियों को केंद्रों को गोद नहीं लेना पड़ेगा। 2022 तक जिले को अभियान के तहत कुपोषण मुक्त बनाया जाएगा।

खत्म होगा रजिस्टर का कार्य : केंद्रों पर पहले रजिस्टर में ही बच्चों की स्थिति और पोषाहार वितरण का विवरण चढ़ता था। अब रामनगर में रजिस्टर का काम खत्म कर मोबाइल पर ही ऑनलाइन कार्य होगा।

स्वत: बनेगा बच्चे का ग्रोथ चार्ट : 19 ब्लॉकों के आंगनबाड़ी केंद्रों में डिजिटल वजन मशीन दी जाएगी। इस मशीन में बच्चे का वजन करते ही उसका ग्रोथ चार्ट सामने आ जाएगा। जिससे बच्चे की स्थिति हर माह पता लगती रहेगी। यहां रामनगर में वजन मशीन दी जाएगी।

पड़ेगा बार कोड : जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रकाश कुमार ने बताया कि पोषाहार के पैकेट में अब बार कोड होगा। जिससे यह पता लग सकेगा कि पोषाहार किस केंद्र पर कितना गया है। यह व्यवस्था सिर्फ पायलट प्रोजेक्ट में शामिल ब्लॉकों में ही फिलहाल लागू होगी।मंडल के एक ब्लॉक को मोबाइल

पोषण अभियान के तहत प्रदेश के 19 मंडलों में एक-एक ब्लॉक पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर लिए गए हैं। जिसमें फैजाबाद मंडल के जिला बाराबंकी के ब्लॉक रामनगर को चुना गया है। यहां संचालित 181 केंद्रों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्ट फोन मिलेगा।


ab anganbadi karyakartaon ko milenge Smartphone


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

(cc) Some Rights Reserved. Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget