यूपीपीएससी के लिए अहम हुई एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती

राज्य ब्यूरो’ इलाहाबाद1एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती 2018, यूपी पीएससी के लिए काफी अहम हो गई है। आयोग के लिए यह अब तक की सबसे बड़ी परीक्षा है, अभ्यर्थियों की संख्या भी एतिहासिक रूप से करीब पौने आठ लाख है और एक ही लिखित परीक्षा से अंतिम परिणाम भी निकलना है। इस लिहाज से भी परीक्षा की अति संवेदनशीलता को देखते हुए सुरक्षा के सभी मापदंडों को अपनाने के लिए और तैयारी का दौर चल रहा है।

पीसीएस 2017 की मुख्य परीक्षा को संपन्न करा चुके आयोग के सामने अब एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती 2018, को सकुशल संपन्न कराना है। परीक्षा 29 जुलाई को प्रदेश के 39 जिलों में होनी है। 10768 रिक्त पदों पर शिक्षकों के चयन के लिए पौने आठ लाख अभ्यर्थियों की दावेदारी है।

सबसे अहम बात है कि केवल लिखित परीक्षा के परिणाम के आधार पर ही शिक्षकों का चयन होना है। इसमें कोई साक्षात्कार नहीं होगा। आयोग के लिए यही संवेदनशीलता परीक्षा की घड़ी है। क्योंकि अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में आयोग पर गड़बड़ी के आरोप लगते रहे हैं। परीक्षा की शुचिता बनाए रखने के लिए आयोग, परीक्षा केंद्रों वाले सभी 39 जिलों के प्रशासन से तैयारियों के संबंध में जानकारी जुटा रहा है। प्रशासन को आयोग से इस सिलसिले में पत्र भी भेजे जा चुके हैं।

सचिव जगदीश का कहना है कि परीक्षा में सुरक्षा के सभी उपाय बरते जाएंगे। परीक्षा केंद्रों में सीसीटीवी कैमरे और प्रश्न पत्र के बंडल खोलते समय वीडियो फोटोग्राफी की व्यवस्था तो रहेगी, पुलिस अधिकारियों और स्टैटिक मजिस्ट्रेट पर भी बड़ी जिम्मेदारी दी जाएगी। सचिव ने इस बात के संकेत भी दिए हैं कि शीघ्र ही कई कड़े फैसले लिए जाएंगे इसकी जानकारी आयोग में बैठक के बाद दी जाएगी।

लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाना है चयन

परीक्षा केंद्रों वाले सभी 39 जिलों के प्रशासन को भेजा गया पत्र

यूपीपीएससी के लिए अहम हुई एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

(cc) Some Rights Reserved. Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget